परशुराम जयंती को रहेगी कड़ी सुरक्षा व्यवस्था, कोई रिस्क नहीं लेंगे अधिकारी

By 03:14 PM, 16.April 2018 Custom Tag

ग्वालियर. 2 अप्रैल को लेकर हुए उपद्रव के बाद प्रशासन और पुलिस कोई रिस्क नहीं लेगा। 10 अप्रैल को बेहद कड़े इंतजामों के बीच भारत बंद रहा और 14 अप्रैल को आंबेडकर जयंती पर भी शहर को सुरक्षा घेरे में रखा गया। यहां तक कि 4 ड्रोन कैमरों से शहर में निगरानी की गई। 10 और 14 के पॉजिटिव फीडबैक के बाद भी 18 अप्रैल यानि परशुराम जयंती पर चौकस सुरक्षा रखी जाएगी। सामाजिक संगठनों से उनकी गतिविधियों कार्यक्रमों को लेकर प्रशासन जानकारी ले रहा है। एहतियातन 14 अप्रैल जैसी व्यवस्थाएं रखी जाएंगी और खासकर धारा 144 का पालन पहले की तरह सख्ती से कराया जाएगा। वहीं मुरार और थाटीपुर पर विशेष नजर रहेगी।
18 अप्रैल- दो अप्रैल के उपद्रव के बाद से 10, 14 और 18 यह 3 दिन पूर्व से पुलिस प्रशासन की निगरानी में हैं। 10 और 14 शांति से निकलने के बाद पुलिस और प्रशासन 18 को भी इसी तरह शांति से निकालना चाहते हैं इसलिए फोर्स से लेकर सभी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रहेगी।
समाजिक संगठनों से बात कौन क्या करने की तैयारी में
18 अप्रैल को परशुराम जयंती पर संबंधित संगठन क्या क्या तैयारी आयोजनों को लेकर कर रहे हैं क्या रूपरेखा संगठनों के पदाधिकारियों की रहेगी यह बातचीत की जा रही है। जिला प्रशासन के अनुसार उनकी तैयारी को समझने के बाद दिशा निर्देश दिए जाएंगे। धारा 144 के चलते सभा जुलूस और रैली सभी पर प्रतिबंध लगा हुआ है और उस दिन किसी ने रैली या इसी तरह के आयेजन के लिए आवेदन तो नहीं दिया यह भी दिखवाया जा रहा है।
25 अप्रैल- भारत बंद के मैसेज वायरल
25 अप्रैल को आरक्षण के विरोध में भारत बंद के मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। इसमें 23 अप्रैल की डेट भी सामने आ रही है। यह मैसेज भेजने वाले संगठन या व्यक्ति विशेष कौन हैं।
इसका पता लगाने में प्रशासन के अधिकारी लगे हुए हैं। पुलिस की सायबर सेल टीम सोशल मीडिया पर निगरानी रखे हुए है।
धारा 144 का पालन होगा सुरक्षा रहेगी
18 अप्रैल को लेकर एहतियातन सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। इस दिन आयोजन को लेकर भी ग्राउंड लेवल पर अधिकारी काम कर रहे हैं अभी तक इस दिन किसी ने आयोजन की परमिशन नहीं मांगी है। धारा 144 का पालन सख्ती से कराया जाएगा। सोशन मीडिया पर निगाह रखी जा रही है।
www.newsmailtoday.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिये हमें  फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

By 03:14 PM, 16.April 2018Custom Tag
Write a comment

 Comments

खबर अभी अभी