शरियत में मस्जिद को शिफ्ट करने की गुजाइंश है-नदवी

By 11:00 PM, 11.February 2018 Custom Tag

नई दिल्ली. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) के एक्जीक्यूटिव मेम्बर मौलाना सलमान नदवी को रविवार को बोर्ड से निष्कासित कर दिया गया है उन्होंने बाबरी मस्जिद को शिफ्ट किये जाने की सलाह दी थी। जिसके बाद उन्हें मुस्लिम बोर्ड से निकाल दिया गया। आपकोबता दें कि बोर्ड ने रविवार को कहा है कि बाबारी मस्जिद को फिर से बनाने के लिये लड़ाई जारी रहेगी। उसकी जमीन को गिफ्ट में नहीं दिया जायेगा। आपको बता दें कि अयोध्या मसले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है। कोर्ट ने अब वाल्मीक रामायण, रामचरित मानस और गीता समेत 20 धार्मिक र्पुस्तकों से उपयोग किये तथ्यों का अंग्रेजी में ट्रांसलेशन करवाने का आदेश दिया है। यूपी सरकार को 2 हफ्ते में ट्रांसलेशन सभी पक्षकारों को देना होगा। आमागी सुनवाई 14 मार्च को होगी।
बाबरी पर नदवी क्या बोले
नदवी ने कहा, शरियत में मस्जिद को शिफ्ट किए जाने का स्कोप है। मैं इस मसले को सुलझाने के लिए हिंदू.मुस्लिम एकता की बात कर रहा हूं। मैं अयोध्या में संतों से मुलाकात करूंगा। इसके अलावा मेरी हिंदुस्तान भर के हिंदू भाइयों से भी चर्चा होगी।  शुक्रवार को नदवी ने न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा था,  मैंने श्रीश्री रविशंकर से मुलाकात की। मैंने राम मंदिर निर्माण का समर्थन करने की बात कही। हमारी प्राथमिकता लोगों के दिलों को जोड़ना है।  नदवी ने कोर्ट के बाहर समझौते का भी जिक्र किया और कहा था. कोर्ट कभी भी लोगों के दिलों को नहीं जोड़ती। फैसला हमेशा एक के पक्ष में और दूसरे के खिलाफ होता है।
बोर्ड से निकाले पर क्या बोले नदवी
मुस्लिम बोर्ड के मेम्बर सैयद कासिम रसूल इलियास ने कहा कि बाबरी मस्जिद मुद्दे पर बोर्ड के नजरिये से समझौता नहीं किया जायेगा। सलमान नदवी अभी भी बोर्ड के फैसले के खिलाफ बोल रहे हैं इसलिये बोर्ड के पास कोई रास्ता नहीं बचा है। कमेटी ने एकमत से उन्हें निकाले जाने का फैसला किया है। 
www.newsmailtoday.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिये हमें  फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

By 11:00 PM, 11.February 2018Custom Tag
Write a comment

 Comments

खबर अभी अभी