धरना पर बैठे भाई बहन के हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर

By 05:38 PM, 12.January 2018 Custom Tag

ग्वालियर. ग्वालियर किले  से कंूदकर आत्महत्या करने वाली लड़की मोनिका शिवहरे के मामले में उसका भाई मनीष गुरूवार की रात को थाने के सामने धरने पर बैठा गया। मनीष ने बताया है कि पुलिस ने उस युवक को आरोपी नहीं बनाया जिसके कारण बहन ने आत्महत्या  की है, बाद में पुलिस ने कार्यवाही का आश्वासन देकर मनीष को धरने से उठाया।
पिछले वर्ष 11 नवंबर को मोनिका शिवहरे नाम की लड़की की लाश की किले की तलहटी में मिली थी। उस समय यह बात सामने आई थी कि मां ने बॉयफ्रेंड से मिलने को रोका तो मोनिका ने ग्वालियर किले से कूदकर आत्महत्या कर ली। 
शुरूआत से मोनिका का भाई मनीष इसे मर्डर बताता रहा। मनीष के अनुसार बहन को ग्वालियर किले पर बुलाकर उसे धक्का दिया गया जिससे उसकी मौत हो गई लेकिन पुलिस आत्महत्या बता रही है।
भाई ने दिए पुलिस को सबूत
मनीष ने ग्वालियर किले जाने के रास्ते में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज तलाशे। उसे जो युवक बहन के पीछे किले तक जाते दिखाई दिए थे वह एक फुटेज में वापिस लौटते हुए भी दिखाई दिए लेकिन बहन नहीं लौटी।
सुबूत के बाद पुलिस ने मानी संदिग्ध मौत
यही सुबूत लेकर मनीष ने टीआई को दिए लेकिन टीआई मानने को तैयार नहीं हुआ। अंत में मनीष एसपी डॉ.आशीष कुमार से मिले और पूरे सबूत दिखाए। इसके बाद पुलिस ने मोनिका की मौत को संदिग्ध मानते हुए जांच शुरू करने की बात कही है। मनीष ने कहा है कि उसने लड़कों के स्कूटर का नंबर भी पुलिस को दिया है। यही स्कूटर उस कोचिंग के बाहर भी खड़ा मिला हैं जहां उसकी बहन मोनिका भी जाती थी।
पुलिस ने की अधूरी जांच
मनीष ने उन लड़कों के नाम भी पुलिस को दिए हैं। इसके बाद पुलिस ने मोनिका के पड़ोस में रहने वाले एक लड़क शिवम के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। मनीष इससे संतुष्ट नहीं हुआ और उसने अंकुर नाम के दूसरे युवक का नाम भी पुलिस को बताया।
धरने पर बैठा मनीष
पुलिस ने इसे माना नहीं। इससे नाराज होकर मनीष गुरूवार की रात को थाने के सामने धरना देकर बैठा गया। पुलिस ने उसे हटाने की कोशिश की लेकिन वह नहीं हटा। अंत में पुलिस ने फिर से जांच का आश्वासन दिया तब जाकर वह धरने से हटा।
www.newsmailtoday.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिये हमें  फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

By 05:38 PM, 12.January 2018Custom Tag
Write a comment

 Comments

खबर अभी अभी