एपी एक्सप्रेस के एसी कोचों में कैसे लगी आग पता करने के लिये जुटा जांचदल

By 04:44 PM, 22.May 2018 Custom Tag

ग्वालियर. कल दोपहर में शॉर्ट सर्किट से नई दिल्ली से विशाखापट्टनम एपी एक्सप्रेस (22416) के दो एसी कोच जलकर पूरी से नष्ट हो गये एपी एक्सप्रेस के कोचों से समय रहते सभी यात्रियों को कोच से बाहर निकाल लिया गया जिससे जानमाल की हानि नहीं हुई। इन्हीं दो एसी कोचों की जांच करने के लिये इलाहाबाद मुख्यालय  से चार सीजीएम स्तर के सीनियर अधिकारियों की टीम ग्वालियर पहुंच कर जांच में जुट गयी कि दोनों कोचों में आग कैसे लगी। यहां पर आपको बता दें कि जांच दल अभी इस निष्कर्ष पर नहीं पहुंच सका कि आग कैसे लगी। आग में जलकर दो एसी कोच नष्ट हो जिनकी कीमत लगभग 4 करोड़ रूपये हैं। 
एससी कोच की कीमत 
यहां पर आपको बता दें कि एपी एक्सप्रेस की आग जल कर नष्ट हुए एसी कोचों की कीमत लगभग 4 करोड़ रूपये हैं और पूरी एसी और पूरी एसी रैक (पूरी ट्रेन) की कीमत लगभग 1 अरब हैं जिसमें इंजन की कीमत 20 रूपये और कोचों की कीमत लगभग 85 करोड़ रूपये हैं। इस तरह के ट्रेन के रैक राजधानी, तेजस, गतिमान, शताब्दी एक्सप्रेस में उपयोग किये जाते हैं। 
जांचदल में आई यह टीम
इलाहाबाद मुख्यालय से जांच दल में चार वरिष्ठ अधिकारियों में चीफ रोलिंग स्टॉक इंजीनियर(सीआरएसई) अतुल अग्रवाल, चीफ सेफ्टी ऑफीसर (सीएसओ) एसके कश्यप, चीफ इलेक्ट्रिकल सर्विस इंजीनिय (सीईएसई) राजनारायण और आरपीएफ के सीएसई डीआईजी आरएस मीणा पूरे दल बल के साथ ग्वालियर के घटनास्थल पर जांच करने के लिये पहुंचे और जले हुए एसी कोचों की जांच करने में जुट गये। 

www.newsmailtoday.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिये हमें फेसबुक और

ट्विटर पर फॉलो करें


By 04:44 PM, 22.May 2018Custom Tag
Write a comment

 Comments

खबर अभी अभी