बच्चे की मौत के बाद भड़के परिजनों ने किया हंगामा

By 03:44 PM, 15.April 2018 Custom Tag

ग्वालियर. घाटीगांव सिमरिया टांका में गैस सिलेण्डर फटने से घायल हुए 15 लोगों में से एक 4 वर्ष के बच्चे की मौत हो गइै है। बच्चे की मौत से भड़के परिजनों ने अव्यवस्थाओं को लेकर नाराजगी जाहिर करते हुए अन्य घायलों को झांसी रोड स्थित एक निजी अस्पताल में शिफ्ट करवा दिया है। जबकि 2 गंभीर घायलों को दिल्ली रैफर कर दिया गया है।
सिमरिया टांका में छोटेलाल की पुत्री ललीत के लगुन की तैयारी चल रही थी। रिश्तेदारों के लिए भोजन बन रहा था कि तभी गैस सिलेण्डर फट गया। जिसमें 15 लोग घायल हो गए थे। घायलों को जयारोग्य अस्पताल के बर्न यूनिट में भर्ती कराया गया थ। अस्पताल में बेड कम पड़ने पर घायलों को जमीन पर गद्दे डालकर लेटा दिया गया था। अस्पताल में अव्यवस्थाओं एवं स्टाफ के व्यवहार को लेकर परिजन खासे नाराज थे। गुस्सा शुक्रवार को फूट पड़ा। पहले तो  परिजनों ने स्टाफ को खरी खोटी सुनाई इसके बाद घायलों को निजी अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया। जबकि गंभीर रूप से घायल संतोष एवं अंकित पुत्र सोभरन को दिल्ली रैफर किया गया है।
निजी अस्पताल लेने को तैयार नहीं
जेएएच की अव्यवस्थाओं से भड़के परिजन घायलों को लेकर झांसी रोड स्थित निजी अस्पताल तो पहुंच गए लेकिन घायलों की हालत देख भर्ती करने से उन्होंने भी इंकार कर दिया था। हालांकि बाद में सामान्य घायलों के उपचार को तो तैयार हो गए है जबकि 2  घायलों को रविवार को दिल्ली रैफर किया जाएगा। जिनमें गोमती और संदीप पुत्र सोभरन शामिल हैं।
बेड तक नहीं कैसे इलाज होगा
परिजनों का कहना था कि अस्पताल में घायलों के लिए बेड तक नहीं है एसी सही काम नहीं कर रहे हैं। घायल दर्द से तड़फ रहे हैं और स्टाफ सुन नहीं रहा है। ऐसे में यदि यहां पर भर्ती रखा तो स्थिति बिगड़ना तय है। परिजनों के आक्रोश को देखते हुए घायलों को निजी अस्पताल शिफ्ट कर दिया गया है।
www.newsmailtoday.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिये हमें  फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

By 03:44 PM, 15.April 2018Custom Tag
Write a comment

 Comments

खबर अभी अभी