स्कॉर्पीन क्लास की दूसरी और तीसरी पनडुब्बी का ट्रायल शुरू

By 01:54 PM, 17.March 2018 Custom Tag

नई दिल्ली. वाइस एडमिरल और नेशनल डिफेंस कॉलेज के कमांडेंट श्रीकांत ने शनिवार को कहा कि स्कॉर्पीन क्लास की दूसरी और तीसरी पन्डुब्बी का समुद्र में ट्रायल चल रहा है। बाकी की 3 निर्माणाधीन हैं। स्कॉर्पीन क्लास की 6 पनडुब्बियां नेवी में शामिल की जानी हैं। स्कॉर्पीन क्लास की पहली पनडुब्बी आईएनएस कलवरी को नरेंद्र मोदी ने मुंबई में 14 दिसंबर को देश को समर्पित किया था।
एयर इंडीपेंडेंट प्रपुल्शन का भी परीक्षण होगा
वाइस एडमिरल ने यह भी बताया कि पनडुब्बी से हवा में मार करने के लिए बनाया गया एयर इंडीपेंडेंट प्रपुल्शन (एआईपी) को भी जल्द ही टेस्टिंग के लिए भेजा जाएगा। श्रीकांत डिस्कवरी चैनल के ब्रेकिंग प्वाइंटः इंडियन सबमरीन के टीजर लॉन्च के प्रोग्राम में बोल रहे थे। यह कार्यक्रम 19 मार्च को प्रसारित होगा।
श्रीकांत ने बताया के दूसरी और तीसरी पनडुब्बी की टेस्टिंग चल रही है जबकि चौथी और पांचवी छठी पनडुब्बी फिलहाल अंडर कंस्ट्रक्शन हैं। हम चाहते हैं कि पहले 3 पनडुब्बियां कमीशंड हो जाएं।
स्कॉर्पीन कलवरी में यह अहम
कलवरी का नाम टाइगर शार्क के नाम पर रखा गया है।
आईएनएस कलवरी स्कॉर्पीन क्लास की पनडुब्बी हैं पनडुब्बी को जहां फ्रांस की कंपनी ने डिजाइन किया है तो इसे मुंबई के मझगांव डॉकयॉर्ड मंे तैयार किया गया है। कलवरी की कैपेबिलिटी ऐसी है कि यह दुश्मन की ओर से आने वाले गाइडेड वेपन्स पर तुरंत हमला कर सकती है। इन हमलों को टॉरपीडो की सहायता से अंजाम दिया जा सकता है। इसके अलावा पनडुब्बी के अंदर होने पर इसे ट्यूब की मदद से एंटीशिप मिसाइल को भी इससे लॉन्च किया जा सकता है। नौसेना की मानें तो इस पनडुब्बी को ऐसे डिजाइन किया गया है कि यह हर तरह की स्थिति में अपने मिशन को पूरा कर सकती है।
2 मार्च 2017 को नौसेना ने कलवरी की सहायता से एंटी शिप मिसाइल का कामयाब टेस्ट किया था।
डीजल. इलेक्ट्रिक, दोनों ही तरह ताकत से लैस इस पनडुब्बी के आने के बाद से नौसेना में कुल पनडुब्बियों की संख्या 14 हो जाएगी। हिंद महासांगर में बढ़ती चीनी गतिविधियों के मद्देनजर अभी नौसेना को 24 से लेकर 26 पनडुब्बियों की जरूरत होगी।
www.newsmailtoday.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिये हमें  फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

By 01:54 PM, 17.March 2018Custom Tag
Write a comment

 Comments

खबर अभी अभी