बेनामी संपत्ति और ट्रांजेक्शन की छानबीन कर रहा है आयकर विभाग

By 05:50 PM, 11.January 2018 Custom Tag

ग्वालियर। आयकर विभाग मप्र छग के प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त पीके दास ने आयकर की चोरी में लिप्त और बेनामी सम्पति रखने वालों को मैसेज  दिया है कि यदि ऐसे लोग आयकर विभाग के अधिकारी द्वारा मांगी गई जानकारी देने में आनाकानी करते हैं या फिर विभाग को सहयोग नहीं करते हैं तो कार्यवाही के लिए तैयार रहें। आयकर विभाग बेनामी संपत्तियां रखने वालों और उनके ट्रांजेक्शन की छानबीन कर रहा है। फिलहाल मप्र छग में 118 बेनामी संपत्तियों को अटैच किया जा चुका है।
प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त बुधवार को अल्पप्रवास के बीच सिटीसेंटर स्थित आयकर भवन में पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। इस अवसर पर प्रधान आयकर आयुक्त ग्वालियर डॉ. सिम्मी गुप्ता,  आयकर आयुक्त अपील एके खंडेलवाल, संयुक्त आयकर आयुक्त डीआर लटोरिया, जेपी तलानियां मौजूद रहे। 
आयकरदाताओं में डर दूर करना होगा इंटरेक्शन- पीके दास, प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त
आयकर विभाग के प्रति आयकरदाताओं में जो डर है उसे दूर करने के लिए हर माह विभाग में इंटरेक्शन (संवाद) रखा जाएगा। अधिकारी इस इंटरेक्शन में आयकर से जुड़ी परेशानियों को सुलझाने का प्रयास करेंगे। 
विधवा, पेंशनर्स को फ्री लीगल एड देगा आयकर विभाग
विधवा महिलाओं, पेंशनर्स, पिछड़े तबके को आयकर में फ्री लीगल एड के लिए कमेटी बनाई गई है। मप्र छग में अभी यह एक्सपेरीमेंट हो रहा है। यहां सफल होने के बाद इसे देशभर में लागू किया जाएगा। ई. असेसमेंट से हुई भाग दौड़ खत्मः आयकर में करदाताओं से जवाब तलब करने के लिए ई. असेसमेंट सिस्टम लागू किया गया है। अब इससे आयकर दाता को जवाब देने के लिए अधिकारियों के पास जाने की आवश्यकता नहीं है। करदाता ऑनलाइन ही डिमांड प्राप्त कर सकता है और अपना जवाब भेज सकता है।
नोटबंदी, जीएसटी लागू होने के बाद टैक्स कलेक्शन की क्या स्थिति 
ग्वालियर आयुक्त कार्यालय में वित्त वर्ष 2017.18 में 267 करोड़ रूपए टैक्स कलेक्शन का टारगेट है। 31 दिसंबर तक 126 करोड़ रूपए टैक्स कलेक्शन हो चुका है। टैक्स कलेक्शन पिछले वर्ष की समान अवधि में 37 प्रतिशत तक बढ़ा है। शेष 31 मार्च तक पूरा कर लिया जायेगा।
अपील के प्रकरण बढ़ रहे है, विभाग क्या कदम उठा रहा है
आयकर के 95 मामले अपील में पेंडिंग हैं। इन मामलों में विभाग ने 700 करोड़ रूपए की डिमांड की है। 2 माह में इन प्रकरणों का निपटारा कर दिया जाएगा।
वर्तमान में कितने करदाता हैं और कितने नए बनाए जा रहे हैं
ग्वालियर आयुक्त कार्यालय  में 2 लाख 71 हजार करदाता हैं। 31 मार्च तक 64 हजार नए करदाता जोडे़ जाने का लक्ष्य रखा है। इनमें से 2 हजार नए करदाता अभी तक रिटर्न फाइल कर चुके हैं।
ऑपरेशन क्लीन मनी में विभाग को कहां तक कामयाबी मिली
ऑपरेशन क्लीन मनी में 2725 मामले बनाए गए हैं। इनमें से 406 मामलों में एक करोड़ रूपए अधिक टैक्स मिलने की संभावना है। इनमें कार्यवाही जारी है। ऑपरेशन क्लीन मनी में 2725 मामले बनाए 
नोटबंदी के बाद से बने 2 लाख 72 हजार नए करदाता
प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त श्री दास ने बताया कि नोटबंदी के बाद नये करदाता बनाए जाने से टैक्स कलेक्शन बढ़ा है। वित्त वर्ष 2017.18 के बीच विभाग ने मप्र और छग में 6 लाख 20 हजार नए करदाता जोड़े जाने का लक्ष्य रखा था। अभी तक की स्थिति के अनुसार 2 लाख 72 हजार नए करदाता बनाये चुके हैं। मार्च तक हम बाकी लक्ष्य को भी प्राप्त कर लेंगे।
www.newsmailtoday.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिये हमें  फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

By 05:50 PM, 11.January 2018Custom Tag
Write a comment

 Comments

खबर अभी अभी